Tuesday, 14 November 2017

Market Todays OutLook Free Stock Market Tips By TradeIndia Research -14-11-2017

कारोबारी सप्ताह के दूसरे दिन मंगलवार को मार्केट एक्सपर्ट्स ने जस् डायल, जिंदल स्टील, पेट्रोनेट और M&M फाइनेंशियल  में निवेश की सलाह दी है। आप नीचे दी गई रणनीति के आधार पर निवेश कर सकते हैं.


जस् डायल

टारगेट – 590
स्टॉप लॉस – 500


जिंदल स्टील

टारगेट – 185
स्टॉप लॉस – 165


M&M फाइनेंशियल 

टारगेट – 465
स्टॉप लॉस – 415


पेट्रोनेट 

टारगेट - 269-71
स्टॉप लॉस - 265/266


नोटबंदी के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ब्लैक मनी से खरीदी गई प्रॉपर्टी पर नजर है। ब्लैक मनी यानी बेनामी प्रॉपर्टी के खिलाफ मोदी सरकार कभी भी बड़ा एक्शन ले सकते हैं। इस एक्शन का शिकार कई बड़े लोग हो सकते हैं, लेकिन आप भी इसकी जद में सकते हैं। हो सकता है कि आपको इस बात का आभास भी हो कि आपके पास भी बेनामी प्रॉपर्टी है।
आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप यहां पता लगा सकते हैं कि आपके पास कोई बेनामी प्रॉपर्टी तो नहीं है। इससे पहले आपको यह भी बताएंगे कि क्या है. बेनामी प्रॉपर्टी और उसके खिलाफ मोदी सरकार का एक्शन। साथ ही, आपको यह जानकारी भी देंगे कि कैसे आप इसे लीगल कर सकते हैं।


ये तीन चीजें करें चेक

अगर आपके पास प्रॉपर्टी है तो  आपके लिए तीन बातें जानना जरूरी है। ताकि सरकार आपकी प्रॉपर्टी को बेनामी घोषित कर सकें। 

1. आप अपनी प्रॉपर्टी के पेपर्स चेक कर लें। प्रॉपर्टी किस के नाम पर है। यदि आपके परिजनों के नाम पर है तो यह अवश् देख लें कि जिस कीमत पर रजिस्ट्री हुई थी

2. प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री के वक् आपने यह प्रॉपर्टी अपनी इनकम टैक् रिटर्न में डिक्लेयर की थी या नहीं।

3. परिवार के जिस सदस् के नाम पर खरीदी गई थी, उसकी इनकम टैक् रिटर्न भरी जाती है या नहीं। यदि भरी जाती है तो प्रॉपर्टी की कीमत का एक हिस्सा उसके आईटीआर में डिक्लेयर किया गया है या नहीं।

मोदी सरकार कर सकती है क्या कार्रवाई 

बेनामी लेन-देन पर रोक लगाने के लिए सरकार ने पहले बेनामी प्रॉपर्टी ट्रांजैक्शन (प्रोहिबिशन) एक् – 1988 में मोदी सरकार ने संशोधन किया एक् में प्रावधान किया गया है कि सरकार द्वारा अधिकृत अधिकारी को लगता है कि आपके कब्जे की प्रॉपर्टी बेनामी है तो वह आपको नोटिस जारी कर आपसे प्रॉपर्टी के कागजात तलब कर सकता है। इस नोटिस के तहत आपको 90 दिन के भीतर अपनी प्रॉपर्टी के कागजात अधिकारी को दिखाने होंगे। - नए कानून के तहत बेनामी लेनदेन करने पर तीन से सात साल की कठोर कैद की सजा और प्रॉपर्टी की बाजार कीमत पर 25 फीसदी जुर्माने का प्रावधान है। ये दोनों सजा साथ-साथ दी जा सकती है।

यदि आप साबित नहीं कर पाते हैं कि यह प्रॉपर्टी आपकी है तो सरकार उसे जब्‍त भी कर सकती है। .


कैसे करें लीगल


आपको यदि पता चल चुका है कि आपकी प्रॉपर्टी बेनामी साबित हो सकती है तो भी आप कुछ ऐहतियात बरत कर इसे लीगल करा सकते हैं। मान लीजिए कि यदि आपने दो साल के दौरान कोई प्रॉपर्टी खरीदी, लेकिन उसक डिक्लेयर नहीं किया गया तो हम आपको बताते हैं कि कैसे आप उस प्रॉपर्टी को लीगल कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, आप अपने पिता के नाम से टैक् रिटर्न भर सकते हैं। एक् में यह प्रावधान है कि आप दो साल की इनकम टैक् रिटर्न एक साथ भर सकते हैं, जिसमें आप दिखा सकते हैं कि आपने अपनी अपनी पत्नी, बच्चों या माता-पिता को प्रॉपर्टी गिफ्ट की है। हालांकि इसके लिए आपको अपना सोर्स ऑफ इनकम बताना होगा।

if you want more information regarding the Market News & many other tips like Intraday Tips , MCX Normal Calls , Indore Advisory Company , Bullion Market Tips , Share Market Services , NSE & BSE Market Tips , Free MCX Market Tips , MCX Premium Tips , Bullion Energy Tips , Commodity market tip.
Call On TOLL FREE Number: 9009010900
TradeIndia Research on Facebook TradeIndia Research On Google Plus TradeIndia Research On LinkedIn TradeIndia Research On Twitter 

No comments:

Post a Comment

Stock Future & Options Derivative Tips Latest Market News By TradeIndia Research - 20-11-2017

NCDEX Support & Resistance level Soyabean Future R2–2905 R1 -2875 S1-2815 S2-2785 Rmseed Future R2...